जानिये राहुल गांधी ने धारा 370 के समर्थन में ऐसा क्या कहा जिस वजह से पुरे देश में उनका विरोध हो रहा हे

60

जानिये राहुल गांधी ने धारा 370 के समर्थन में ऐसा क्या कहा जिस वजह से पुरे देश में उनका विरोध हो रहा हे

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया है। जिसमें मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि राष्ट्र उसके लोगों से बनता है, जमीन के टुकड़ों से नहीं. राहुल गांधी ने ट्वीट में लिखा, ”जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटकर, चुने हुए प्रतिनिधियों को जेल में डालकर और संविधान का उल्लंघन करके देश का एकीकरण नहीं किया जा सकता. देश उसकी जनता से बनता है न कि जमीन के टुकड़ों से. सरकार द्वारा शक्तियों का दुरुपयोग राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए घातक साबित होगा। ”


इससे पहले केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि चूंकि वह अब पार्टी के अध्यक्ष नहीं है इसलिए वह इस मुद्दे पर बैठक नहीं बुला सकते। सूत्रों से मिला जानकारी के अनुसार धारा 370 हटाए जाने को लेकर पहले कांग्रेस पार्टी के अंदर स्थिति साफ नहीं थी लेकिन अब पार्टी में इस फैसले का विरोध करने पर सहमति बन गई है। कांग्रेस के अनुसार जिस तरह से इस धारा को हटाया गया है वह तरीका सही नहीं है।

वही कांग्रेस के ही कुछ नेता इस निर्णय के सपोर्ट में दिखे जैसे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित क्षेत्रों में बांटने के केंद्र सरकार के कदम का समर्थन किया और अपनी पार्टी के रुख के विपरीत राय रखते हुए कहा कि सरकार ने एक ‘ऐतिहासिक गलती’ सुधारी है। द्विवेदी ने कहा कि यह राष्ट्रीय संतोष की बात है कि स्वतंत्रता के समय की गई गलती को सुधारा गया है। उन्होंने कहा कि यह बहुत पुराना मुद्दा है। स्वतंत्रता के बाद कई स्वतंत्रता संग्राम सेनानी नहीं चाहते थे कि अनुच्छेद 370 रहे। मेरे राजनीतिक गुरु राम मनोहर लोहिया शुरू से ही अनुच्छेद 370 का विरोध करते थे। मेरे व्यक्तिगत विचार से तो यह एक राष्ट्रीय संतोष की बात है ।